राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना – Online Application / Rajasthan Majdoor Ghar Vapsi

By | July 1, 2020

राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना – आज लगभग पूरी दुनिया में कोरोनावायरस ने अपना संक्रमण फैला चुका है इससे पूरे दुनिया के देश काफी परेशान हैं जिस वजह से बहुत से लोग बेरोजगार हो गए हैं। जब सामान्य स्थिति थी, तब लोग रोजगार की तलाश में बड़े शहरों की ओर प्रवास करते थे और वहां पर अपना रोजगार प्राप्त करते थे परंतु कोरोनावायरस की वजह से आप बड़े शहरों में भी रोजगार नहीं है जिससे मजदूरों पर बहुत बड़ा संकट आ चुका है।

भारत में भी मजदूर रोजगार की तलाश में एक राज्य से दूसरे राज्य अथवा छोटे शहरों तथा गांव से बड़े शहरों की ओर प्रवास करते थे जब भारत में कोरोनावायरस का संक्रमण फैल गया तो इन मजदूरों पर बहुत बड़ी समस्या आ गई। इन मजदूरों को बड़े शहरों में नाही रोजगार मिल रहा है और ना ही कुछ खाने को मिल रहा है ऐसे में मजदूर उन शहरों से अपने घरों की ओर जा रहे हैं जब सरकार ने देखा कि बहुत बड़े समूह में यह मजदूर अपने घर की ओर प्रस्थान कर रहे हैं तो इनके लिए समुचित व्यवस्था कर इन लोगों को इनके घर तक पहुंचा दिया जाए।

राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना

मजदूरों की समस्याओं को देखकर भारत के राजस्थान राज्य में इनके लिए उचित प्रबंध तथा खाने की व्यवस्था करते हुए इन्हें घर पर पहुंचाने के लिए एक रास्ता निकाला। जैसा कि आप जानते ही होंगे कि राजस्थान में भी कोरोनावायरस बड़े तेजी से फैल रहा है इसको देखते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी ने अपने राज्य के मजदूरों के लिए एक विशेष प्रकार की योजना चलाएं जिसका नाम राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी योजना रखा गया।

राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना

हम आपको इस आर्टिकल के बाद हमसे राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी योजना के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे तथा इसका कैसे लाभ उठा सकते हैं इसके बारे में भी जानकारी देंगे अब इस आर्टिकल के माध्यम से आपको यह भी बताएंगे कि राजस्थान श्रमिक कार्ड तथा प्रवासी नागरिक वापसी रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया के दिशा निर्देश क्या है विस्तार पूर्वक आपको जानकारी देंगे।

राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना क्या है

यह योजना राजस्थान सरकार द्वारा निकाली गई है राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के आदेशानुसार इस योजना का कार्य वाहन होता है इस योजना का आरंभ  27 अप्रैल 2020 में किया गया  है।

आप जानते ही हैं कि कोरोनावायरस के कारण पूरे देश में Lockdown चल रहा है जिसके कारण अलग-अलग राज्यों में हजारों की तादात में मजदूर फंसे हुए हैं। इन मजदूरों को ना ही रोजगार प्राप्त हो पा रहा है और ना ही खाने को भोजन प्राप्त हो रहा है तथा यह मजदूर अपने घर वापस जाना चाहते हैं।

इस समस्या को देखते हुए राजस्थान सरकार में एक सेवा शुरू की इस सेवा को ईमित्र पोर्टल द्वारा संचालित किया जाता है जिसके अंतर्गत राजस्थान के प्रवासी मजदूर दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं वह अपना रजिस्ट्रेशन इस पोर्टल के माध्यम से करा कर वह राजस्थान अपने घर वापस आ सकते हैं।

यह ऑनलाइन प्रक्रिया है इस प्रक्रिया को ई मित्र पोर्टल के माध्यम से बड़े योजनाबद्ध तरीके से मजदूरों के लिए बनाया गया है इसमें रजिस्ट्रेशन हेल्पलाइन नंबर के सहायता से करा सकते हैं तथा जो मजदूर इंटरनेट आदि चलाना जानता है वह ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकता है।

प्रवासी मजदूर वापसी योजना का उद्देश्य

  • प्रवासी मजदूरों को अपने परिजनों से मिलाना।
  • मजदूरों को कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाना।
  • कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने का प्रयास करना।
  • मजदूरों को खानपान तथा भोजन से संबंधित वस्तुओं की व्यवस्था करना।
  • प्रवासी मजदूरों के बीच कोविड-19 के प्रति जागरूकता फैलाना।
  • विभिन्न राज्यों में फसे प्रवासी मजदूरों को अपने राज्य में लाना।

प्रवासी मजदूर वापसी योजना के तहत लाए गए मजदूरों का कोरोनावायरस टेस्ट

जब प्रवासी मजदूरों को राजस्थान में वापस लाया जाएगा तब इन्हें बड़े योजनाबद्ध तरीके से चलाया जाएगा। इनमें मजदूरों को छोटे-छोटे समूह में वापस लाने का निर्णय लिया गया है। जब मजदूर अपने राजस्थान में आएंगे तो उन्हें 14 दिन के लिए क्वॉरेंटाइन में रखा जाएगा। उनके नियमित रूप से टेस्ट होंगे और उसके बाद ही उन्हें घर भेजा  जाएगा। जिससे कि उनके परिवार में तथा उनके आज पड़ोस में रह रहे लोगों में कोविड-19 फैलने का डर नहीं रहेगा। इस टेस्ट से यह भी पता चल जाएगा कि कितने मजदूर में यह कोविड-19 का संक्रमण हो चुका है।

राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी योजना की पात्रता क्या है

इस योजना को सुचारू रूप से चलाने के लिए राजस्थान सरकार ने इसे बड़े योजनाबद्ध तरीके से तैयार किया है। कोविड-19 के कारण पूरे देश में लाभ डाउन चल रहा है जिस वजह से मजदूर अन्य राज्यों में फंसे हुए इसके लिए राजस्थान सरकार में इस योजना के तहत कुछ दिशा निर्देश जारी किए हैं जो निम्नलिखित है:-

  • मजदूर राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए।
  • मजदूर के पास राजस्थान से संबंधित प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  • प्रवासी मजदूर मोबाइल ऐप के माध्यम से इसका ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन किया, यदि किसी मजदूर के पास इंटरनेट नहीं है तो वहां हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवा सकता है।
  • प्रवासी मजदूर के पास यदि कोई प्रमाण पत्र नहीं है तो इसके बारे में अपने राज्य सरकार को सूचित करें।
  • यदि कोई व्यक्ति अपने वाहन से जाना चाहता है तो इसके संबंध में जिला कलेक्टर के पास जानकारी दें।

राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन कराने की आवश्यकता होगी यदि किसी व्यक्ति के पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है तो इस बात का भी ध्यान राजस्थान सरकार ने रखा है इसलिए आप यह रजिस्ट्रेशन दो तरह से करा सकते हैं

  • पोर्टल/ मोबाइल ऐप के माध्यम से
  • हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से

राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी रजिस्ट्रेशन हेल्पलाइन के द्वारा

राजस्थान सरकार ने प्रवासी मजदूरों के लिए 18001806127 हेल्पलाइन नंबर जारी किया है बड़े आसानी से नंबर लगा कर अपनी पूरी जानकारी लेकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

यह बड़ा ही आसान तरीका है राजस्थान सरकार ने इस बात का ध्यान रखा कि जिन व्यक्तियों के पास इंटरनेट तथा एंड्राइड मोबाइल नहीं है तो वह हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवा सकता है यह हेल्पलाइन नंबर है इस नंबर को लगाने के लिए आपको किसी प्रकार के चार्ज नहीं काटा जाएगा।

राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आप राजस्थान सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • जाने के पश्चात वेबसाइट में होम पेज खुलेगा।
  • इसमें आपको रजिस्ट्रेशन का विकल्प दिखाई देगा इस विकल्प पर आप क्लिक करें।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा इसमें आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म दिखाई देगा।
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म को ध्यानपूर्वक पढ़ें तथा मांगी गई जानकारी को सावधानी पूर्वक भरे।
  • आपसे जानकारी में लिंग, नाम, आयु, मोबाइल नंबर आदि की जानकारी साझा करने को कहेगा।
  • उसके बाद आपको फॉर्म में ही एक और सेक्शन मिलेगा जिसमें राज्य, जिला, तहसील, पंचायत आदि की जानकारी भी पूछेगा सभी जानकारी को सही तरीके से भर देना है।
  • इसके बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार राजस्थान प्रवासी मजदूर वापसी योजना में रजिस्ट्रेशन करा पाएंगे।

चाहे तो आप इसे मोबाइल ऐप के माध्यम से भी पूरा कर सकते हैं इसमें आपको दिशा निर्देश दिए जाएंगे अपना मोबाइल नंबर दर्ज कर देना आपके मोबाइल में SMS के माध्यम से एक OTP आएगा जिससे यह मोबाइल नंबर सत्यापित हो जाएगा इस तरह से आप मोबाइल ऐप के माध्यम से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आप संतुष्ट होंगे और आप राजस्थान प्रवासी मजदूर वासी योजना के संबंध में जानकारी प्राप्त कर लिए होंगे। इसका उद्देश्य यह था कि इस योजना के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को पता चले ताकि वहां प्रवासी मजदूर अपने राज्य अपने घर लौट सकें।

FAQ of राजस्थान प्रवासी मजदूर घर वापसी योजना

क्या राजस्थान के प्रवासियों के लिए घर जाने के लिए सच में कोई योजना चलायी गयी है?

हाँ, राजस्थान की सरकार गेहलोत ने राजस्थान प्रवासियो को घर लाने के लिए एक ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू की गयी है | 

आपका आवेदक स्वीकार हुआ या नही कैसे पता करे?

आपका एप्लीकेशन एक्सेप्ट हुआ या नही ये जानने के लिए आप अपना ऑनलाइन स्टैट्स देख सकते है | 

क्या सच में इस योजना से राजस्थान के बाहरी फसे लोगो को कुछ फायदा हो सकता है ?

हा बिलकुल! इस योजना के अंतगर्त आप अपने घर वापस लौट सकते है, इसके लिए आपको बस अप्लाई करके फॉर्म को सबमिट करना होगा | 

आवेदन के लिए क्या क्या जानकरी देनी जरूरी है?

आवेदन के लिए आपको अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर, गाड़ी का नंबर, आप कैसे जा रहे है, कितने लोग जा रहे है, आप किस जगह जा रहे है, इन सभी की जानकारी देना बेहद जरूरी है |

क्या फॉर्म भरते समय कोई डॉक्यूमेंट अपलोड करना जरूरी है?

जी हाँ! फॉर्म भरते समय आपको कोई एक सरकारी डॉक्यूमेंट अपलोड करना जरूरी है, ताकि आपका वेरीफाई हो सके, की आप वही है, डॉक्यूमेंट के तौर पे आप आधार कार्ड, वोटर कार्ड, पासपोर्ट, राशन कार्ड इन सभी में से कोई एक उपलोड कर सकते है | 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *